प्रजा अधीन राजा समूह | Right to Recall Group

अधिकार जैसे कि आम जन द्वारा भ्रष्ट को बदलने/सज़ा देने के अधिकार पर चर्चा करने के लिए मंच
It is currently Sun Dec 17, 2017 5:11 pm

All times are UTC + 5:30 hours


फोरम के नियम ; Forum rules


वीडियो लिंक, फोटो और अन्य लिंक डालने के साथ-साथ वीडियो, फोटो और अन्य लिंक में बताये गए मुख्य बिंदु बताएं | कृपया कमेन्ट करने से पहले फोरम के सारे नियम यहाँ पढ़ें - http://forum.righttorecall.info/viewtop ... =19&t=1098


Video links, photo, other links posted should be accompanied by short text explaining the main points told in the video/photo/other links. Please read the rules of the forum before posting - http://forum.righttorecall.info/viewtop ... =19&t=1098



Post new topic Reply to topic  [ 1 post ] 
SR. No. Author Message
1
PostPosted: Wed Jul 02, 2014 4:50 pm 
Offline

Joined: Wed Jan 02, 2013 3:30 pm
Posts: 7
इस विडियो को मैने सुना इसमे मुझे यह जानकारी ज्ञानवर्दक लगी

http://www.youtube.com/watch?v=fqWxbgAoSc0


अमेरिका मे सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट के सभी मुख्यल जजो की नियुक्ति अमेरिकी ससंद मे अमेरिका सासंदो की वोटिग द्वारा होती हैं और अन्य जज की नियुक्ति लिखित परीक्षा के माध्य्म से होती है और इटंव्यूअ की व्यमवस्था भी ऐसी है जिससे साठ-गाठ/फिक्सीाग होने की सभावना कम होती है मान लो अमेरिका मे 200 अन्यय जजो का इटंव्यूअ लेना है तो वहॉं पर इटंव्यूा लेने के लिए 100 लोगो को बुलाया जायेगा और उन 100 लोगो मे से लाटरी सिस्ट म की तरह 50 लोगो को चुना जायेगा |

और फिर उन 50 लोगो को फिर 5-5 गुप्र मे बाटा जायेगा वह 5-5 गुप्र के लोग 200 अन्य‍ जजों का इंटरव्यू लेते है यह कार्य इंटरव्यू लेने से कुछ मिनट पहले किया जाता है जिसके कारण इंटरव्यू लेने वालो को यह जानकारी नहीं होती कि वह इंटरव्यू किसका ले रहा है और इंटरव्यू देने वालो को भी जानकारी नहीं होती कोन सा व्य क्ति/समूह इंटरव्यू ले रहा है इसलिए सांठ’-गाठ/रिश्व त/फिक्सीनग होनी की सभांवना नहीं होती दूसरा इंटरव्यू लेने वालो को भी उसी समय अपने कागजो मे यह निर्णल लिखना होता था कि वह जिसका इंटरव्यू लिया है वह जज की नौकरी पाने योग्य है या नहीं गुप्र के पाचो इंटरव्यू लेने वालो को अपने कामेंट सरकारी कांगज मे उस समय लिखने होते हैं |

चाईना की कोर्ट मे केस के फैसले जल्दीय आ जाते है इसका कारण है वहॉं 2 लाख जज है और भारत मे केवल 20 हजार जज है और चाईना मे जज आम नागरिक बन सकते है क्यो‍कि वहा पर यह व्य वस्थाय है कि छात्र 12वी के बाद जज बनने के लिए entrance exam/प्रवेश परीक्षा दे सकता है लेकिन भारत मे जज बनने के लिए उसे BA+LLB करनी होती है और फिर आगे की तैयारी कारनी होती जिसके लिए उस आम नागरिक के पास पैसा नहीं होता इसलिए वह अन्यथ रोजगार की तरफ चला जाता है और भारत मे जज आम नागरिक नहीं बन सकता


Top
 Profile  
 
Display posts from previous:  Sort by  
Post new topic Reply to topic  [ 1 post ] 

All times are UTC + 5:30 hours


Who is online

Users browsing this forum: No registered users and 1 guest


You cannot post new topics in this forum
You cannot reply to topics in this forum
You cannot edit your posts in this forum
You cannot delete your posts in this forum
You cannot post attachments in this forum

Search for:
Jump to:  
cron
Powered by phpBB® Forum Software © phpBB Group