प्रजा अधीन राजा समूह | Right to Recall Group

अधिकार जैसे कि आम जन द्वारा भ्रष्ट को बदलने/सज़ा देने के अधिकार पर चर्चा करने के लिए मंच
It is currently Thu Nov 23, 2017 11:17 am

All times are UTC + 5:30 hours




Post new topic Reply to topic  [ 1 post ] 
SR. No. Author Message
1
PostPosted: Sun Aug 31, 2014 9:02 pm 
Offline

Joined: Sun Sep 12, 2010 2:49 pm
Posts: 596
(Scroll Down For English)

प्रिय नागरिक ,

अगर आप चाहते है कि नागरिकों के पास ऐसी प्रक्रिया हो कि वे अपने जिले के शिक्षा अधिकारी को किसी भी दिन बदल सकें तो अपने विधायक को एस.एम.एस. या ट्विट्टर के द्वारा आदेश देवे - :

" Main aapko aadesh deta hun ki is link mein draft - tinyurl.com/rtrshiksha ka badhava apne website, niji bil aadi dwara karein. varna main apko aur apki party ko vote nahin karenge. Kripya smstoneta.com jaise public sms server banayein jismein logon ki SMS dwara raay unke voter ID ke saath sabhi ko dikhe."

अपने विधायक को एस.एम.एस. भेजने के अलावा, अपनी मांग का प्रमाण अपने वोटर आई.डी. के साथ, पब्लिक एस.एम.एस. सर्वर पर दिखाएँ 3 एस.एम.एस. भेज कर | यदि आप ये चाहते हैं कि नागरिकों के पास ऐसी प्रक्रिया हो कि वे अपने जिले के शिक्षा अधिकारी को किसी भी दिन बदल सकें, तो 08141277555 पर अपने मोबाइल इन्बोक्स से कृपया तीन एस.एम.एस. भेजें –
.
• पहला एस.एम.एस. इस प्रकार रहेगा (मतलब दो स्टार सिम्बल के बीच में
अपना वोटर आई.डी. नंबर डाल कर एस.एम.एस. करें)
.
*आपकी-वोटर-आई.डी.-संख्या*
.
• दूसरा एस.एम.एस. में केवल चार अंक रहेंगे जो टी.सी.पी. (rtrg.in/tcpsms.h) का समर्थन कोड है –
.
0011
.
• तीसरा एस.एम्.एस. में केवल चार अंक रहेंगे जो राइट-टू-रिकॉल-शिक्षा अधिकारी कानून का समर्थन कोड है –
.
0171
.
आपका समर्थन इस लिंक पर आएगा –
.
http://smstoneta.com/tcp |
.
यदि पर्याप्त संख्या में ये इन्टरनेट वोटर आई.डी. समर्थन प्राप्त हो गया, तो ये कानून आ जायेंगे |
.

और कृपया अन्य नागरिकों को भी विज्ञापन, पर्चों आदि द्वारा बताएं कि वे भी अपने विधायक को इस प्रकार का एस.एम.एस भेजें |

=================================

प्रिय विधायक,

अगर आपको एस.एम.एस. के द्वारा ये यू.आर.एल मिला है तो उसे वोटर का आदेश माना जाये जिसने यह मैसेज भेजा है (न कि जिसने ये लेख लिखा है)

एस.एम.एस. भेजने वाला आपको निम्नलिखित कानून-ड्राफ्ट को अपने वेबसाईट, निजी बिल आदि द्वारा बढ़ावा करने और मांग करने के लिए आदेश दे रहा है -

धारा संख्या #

[अधिकारी जिसके लिए निर्देश]

प्रक्रिया

सैक्शन 1 : राइट-टू-रिकॉल-शिक्षा अधिकारी

1.

-

`माता/पिता` शब्‍द का अर्थ होगा – 0 से 18 आयुवर्ग के बच्‍चे के लिए (उसका) पिता अथवा (उसकी) माता, जो उस जिले का दर्ज मतदाता भी हो । जब तक माता-पिता की सूची नहीं बनती, हर पंजीकृत मतदाता जो 23 और 45 वर्ष के बीच में है, उसे इस राजपत्र के लिए माता-पिता माना जायेगा |

जिला कलेक्‍टर शब्‍द का अर्थ होगा – इस सरकारी आदेश का पालन करने के लिए जिला कलेक्‍टर अथवा उसके द्वारा `रखा गया/`नियुक्‍त कोई अधिकारी ।

`जिला शिक्षा अधिकारी` का मतलब उस पूरे जिला की शिक्षा सम्बन्धी निर्णय करने वाला और शिक्षा सम्बन्धी अच्छी व्यवस्था बनवाये रखने वाला |

2.

[जिला कलेक्‍टर]

यदि भारत का कोई नागरिक जिला शिक्षा अधिकारी बनना चाहता है और वह जिला कलेक्‍टर के पास स्‍वयं उपस्‍थित होकर या किसी वकील के माध्‍यम से ऐफिडेविट/शपथपत्र/हलफनामा प्रस्‍तुत करता है तो जिला कलक्‍टर, सांसद के चुनाव में जमा की जाने वाली राशि के बराबर दाखिल शुल्‍क लेकर `जिला शिक्षा अधिकारी` के पद के लिए उसका आवेदन-पत्र स्‍वीकार कर लेगा । उसका नाम `जिला शिक्षा अधिकारी` के रूप में मुख्यमंत्री वेबसाईट पर डाल दिया जायेगा |

3.

[पटवारी/तलाटी/लेखपाल, (अथवा उसका क्लर्क)]

यदि कोई `माता-पिता` ,पटवारी के कार्यालय में स्‍वयं उपस्‍थित होकर 3 रूपए का शुल्‍क जमा करवाकर अधिक से अधिक 5 व्‍यक्‍तियों को जिला शिक्षा अधिकारी के पद के लिए पसंद/अनुमोदित करता है तो तलाटी उसके अनुमोदनों को कम्‍प्‍यूटर में दर्ज कर लेगा और उसे एक रसीद देगा जिसमें उसकी मतदान पहचान-पत्र (संख्‍या), तारीख/दिन और उसके द्वारा अनुमोदित किए गए व्‍यक्‍तियों (के नाम) होंगे ।

4.

[पटवारी/तलाटी]

पटवारी माता/पिता के अनुमोदन को, पसंद/अनुमोदित व्‍यक्‍ति के मतदाता पहचान-पत्र और नाम के साथ जिले की वेबसाईट पर डालेगा ।

5.

[पटवारी/तलाटी]

यदि कोई व्‍यक्‍ति अपना अनुमोदन/पसंद रद्द करवाने के लिए आता है तो पटवारी एक या अधिक नामों को बिना कोई शुल्‍क लिए रद्द कर देगा ।

6.

[जिला कलेक्‍टर]

प्रत्‍येक महीने की 5 तारीख को, कलेक्‍टर या उसके द्वारा रखा गया/नियुक्‍त किया गया अधिकारी पिछले महीने के अंतिम दिन तक प्रत्‍येक उम्‍मीदवार को मिले/प्राप्‍त पसंद/अनुमोदनों की गिनती प्रकाशित करेगा ।

7.

[मुख्‍यमंत्री]

यदि कोई उम्‍मीदवार किसी जिले में सभी माता-पिता (सभी, न कि केवल उनका जिन्‍होंने अपना अनुमोदन दर्ज करवाया है) के 35 प्रतिशत से अधिक माता-पिता का अनुमोदन प्राप्‍त कर लेता है और वो प्राप्त अनुमोदन वर्तमान जिला शिक्षा अधिकारी के अनुमोदनों से 5% अधिक है, तो मुख्‍यमंत्री उसे `जिला शिक्षा अधिकारी` की नौकरी दे सकता है ।

8.

[मुख्‍यमंत्री, जिला शिक्षा अधिकारी]

कोई भी व्‍यक्‍ति माता-पिता का अनुमोदन प्राप्‍त करके जिला शिक्षा अधिकारी बन सकता है, वह एक से अधिक जिले का भी जिला शिक्षा अधिकारी बन सकता है। वह किसी राज्‍य में अधिक से अधिक 5 जिलों का और भारत भर में अधिक से अधिक 20 जिलों का जिला शिक्षा अधिकारी बन सकता है। कोई व्‍यक्‍ति अपने जीवन काल में किसी जिले का जिला शिक्षा अधिकारी 8 वर्षों से अधिक समय के लिए नहीं रह सकता है। यदि वह एक से अधिक जिले का जिला शिक्षा अधिकारी है तो उसे उन सभी जिलों के जिला शिक्षा अधिकारी के पद का वेतन, भत्ता (महंगाई के लिए ज्यादा पैसा), बोनस आदि मिलेगा ।

9.

[मुख्‍यमंत्री]

जब तक किसी जिला शिक्षा अधिकारी को 34 प्रतिशत से अधिक माता-पिता का अनुमोदन प्राप्‍त है तब तक मुख्‍यमंत्री को उसे बदलने की जरूरत नहीं है। लेकिन यदि किसी जिला शिक्षा अधिकारी का अनुमोदन 34 प्रतिशत से नीचे चला जाता है तो मुख्‍यमंत्री उसे हटाकर/बदलकर अपनी पसंद के किसी अधिकारी को जिला शिक्षा अधिकारी बना सकते हैं ।

सैक्शन 2 : जिला शिक्षा अधिकारी के कार्य

1.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी वर्तमान और बाद के संशोधित कानूनों के अनुसार कक्षा 1 से कक्षा 12 वीं वाले स्‍कूल/विद्यालय और जिले के परीक्षा केन्‍द्रों का प्रशासन संभालेगा । जिला शिक्षा अधिकारी, नागरिकों और सांसदों, विधायकों और जिला पंचायत सदस्‍यों द्वारा बनाए गए कानूनों के अनुसार प्रधानमंत्री, मुख्‍यमंत्री और जिला पंचायत प्रमुख से पैसा प्राप्‍त करेगा ।

2.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी निम्‍नलिखित विषयों की पढ़ाई/शिक्षा का प्रशासन कार्य देखेगा :- गणित, विज्ञान, भौतिकी, रसायन, जीव विज्ञान, अंग्रेजी, हिन्‍दी, स्‍थानीय भाषा, सेना का इतिहास, कानून और प्रशासनिक ढ़ांचा, कानून का इतिहास और प्रशासनिक ढ़ांचा, सैन्‍य प्रशिक्षण/ट्रेनिंग और हथियार के प्रयोग/चलाने की शिक्षा । वह सांसदों, विधायकों आदि द्वारा बनाए गए कानूनों के अनुसार शिक्षा देगा ।

3.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी संस्‍कृत और सामाजिक विज्ञान की शिक्षा जारी रखेगा। लेकिन यदि 51 प्रतिशत से अधिक जनता इस कोर्स को जारी न रखने की मांग करती है तो जिला शिक्षा अधिकारी उसे अनिवार्य पाठ्यक्रम से हटा सकता है ।

4.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी किसी भी नागरिक को 100 रूपए का शुल्‍क/फीस लेकर “रजिस्‍टर्ड निजी शिक्षक/प्राइवेट मास्टर” बनने की अनुमति दे सकता है ।

5.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी किसी भी माता-पिता को पटवारी/तलाटी के कार्यालय में जाकर (नए) शिक्षक/मास्टर का नाम दर्ज करने पर उन्‍हें अपने बच्‍चे के शिक्षक/ट्यूटर बदलने की अनुमति दे सकता है ।

6.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी कक्षा 1 से कक्षा 12 के छात्रों के लिए प्रत्‍येक माह गणित में 1-4 परीक्षा करवा सकता है। इसके अलावा, वह विज्ञान, कानून और अन्‍य विषयों में परीक्षाएं करवाएगा। ये परीक्षाएं कम्‍प्‍यूटरीकृत परीक्षाएं हो सकती हैं। प्रत्‍येक वर्ष/ प्रत्येक तिमाही के लिए उन प्रश्‍नों की सूची, जो परीक्षा में आ सकते है , में 10,000 से लेकर 100,000 प्रश्‍न होंगे और इन्‍हें प्रकाशित किया जाएगा। परीक्षाओं में इस सूची में से 30-100 प्रश्‍न हो सकते हैं ।

7.

[जिला शिक्षा अधिकारी]

जिला शिक्षा अधिकारी उपलब्‍ध धनराशि/निधि, छात्र और उसके मास्टर/शिक्षक द्वारा परीक्षा में किए गए प्रदर्शन के आधार पर पुरस्‍कार दे सकते हैं। मास्टर को इन भुगतानों के अलावा सरकार से कोई और वेतन नहीं मिलेगा ।

सैक्शन 3 : जनता की आवाज

1.

[जिला कलेक्टर]

यदि कोई भी नागरिक इस कानून में परिवर्तन चाहता हो तो वह जिला कलेक्‍टर के कार्यालय में जाकर एक ऐफिडेविट/शपथपत्र प्रस्‍तुत कर सकता है और जिला कलेक्टर या उसका क्‍लर्क इस ऐफिडेविट को 20 रूपए प्रति पन्ने की फ़ीस लेकर नागरिक के वोटर आई.डी. नम्बर के साथ प्रधानमंत्री की वेबसाईट पर स्कैन करके डाल देगा ताकि कोई भी उस एफिडेविट को बिना लॉग-इन देख सके ।

2.

[तलाटी (अर्थात पटवारी/लेखपाल) या उसका क्लर्क]

यदि कोई गरीब, दलित, महिला, वरिष्‍ठ नागरिक या कोई भी नागरिक इस कानून अथवा इसकी किसी धारा पर अपनी आपत्ति दर्ज कराना चाहता हो अथवा उपर के क्‍लॉज/खण्‍ड में प्रस्‍तुत किसी भी ऐफिडेविट/शपथपत्र पर हां/नहीं दर्ज कराना चाहता हो तो वह अपना मतदाता पहचानपत्र/वोटर आई डी लेकर तलाटी के कार्यालय में जाकर 3 रूपए का शुल्‍क/फीस जमा कराएगा। तलाटी हां/नहीं दर्ज कर लेगा और उसे इसकी पावती/रसीद देगा। इस हां/नहीं को नागरिक के वोटर आई.डी. नंबर के साथ प्रधानमंत्री की वेबसाईट पर डाल दिया जाएगा ।

========================

अधिक जानकारी के लिए चैप्टर 1 , 30 , 55 , http://www.prajaadhinbharat.wordpress.com देखें (डाउनलोड लिंक - http://www.righttorecall.info/301.h.pdf)|

प्रश्नोत्तरी के लिए http://www.righttorecall.info/004.h.htm देखें (डाउनलोड लिंक - http://www.righttorecall.info/004.h.pdf) |

==================================================

Dear, All,

Those who want Right to Recall District Education Officer , please send following order to your MLA via SMS or twitter ---

"Please promote this draft - tinyurl.com/rtrshiksha via your website, private member bill etc. and get it printed in gazette. Or will not vote for you/your party. Also, set up a public sms server like smstoneta.com so that SMS-opinions of all citizens, along with their voter IDs, can be seen by all "

Besides sending sms to your MLA, also display proof of your opinion along with voter id by sending 3 SMS-es to already existing public sms server. If you want that citizens have a procedure by which they can replace their district education officer anyday, then please send from your mobile inbox, send to 08141277555 these 3 SMS-es –
.
• First sms will be in this format (meaning that you have to put your voter ID number between two star symbols and send sms)
.
*YourVoterIDNumber*
.
• Second SMS will have only 4 numbers for support of TCP (righttorecall.info/tcpsms ; This issue promotes all issues) which is the support code of TCP -
.
0011
.
Third SMS will have only 4 numbers for support for bringing RTR-District Education Officer law –
.
0171
.
Your support will come on this link – http://smstoneta.com/tcp
.
If sufficient internet voter id support is received, these pro-common laws will come.

And also inform other citizens via ads, pamphlets etc. to send this SMS to their MLA

====

Dear MLA,

If you have received the internet link to this status via SMS from your voter, then it is order to you, to order CM to print the following DRAFT in Gazette -

== start of draft of the proposed RTR-DEO GN ===

The exact draft, which will come into effect when CM signs this law is as follows:

Section-1 : Right to Recall District Education Officer

1. The word parent would mean a father and mother with a kid between age 0 to 17 who should also be a registered voter in that district ; Till the list of parent is made, every registered voter between the age of 23 years and 45 years will be deemed parent for the pupose of this GN.

2. (procedure for Collector) If any citizen of India wishes to become DEO .

3. (District Education Officer) , and he appears in person or via a lawyer with affidavit before the DC (or officer he deputes), the DC (or officer he deputes) would accept his application to become DEO after taking filing fee same as deposit amount for MP election.His name will be put as `DEO` candidate on CM website.

4. (procedure for Talati or Talati’s Clerks) If a parent comes in person to Talati’s office, pays Rs 3 fee , and approves at most five persons for the DEO position, the Talati would enter his approvals in the computer and would him a receipt with his voter-id#, date/time and the persons he approved.

5. (procedure for Talati) The Talati will put the approvals of the parent on district’s website with citizen’s voter-ID number and names of the persons he approved.

6. (procedure for Talati) If a the parent comes to cancel his Approvals, the Talati will cancel one of more of his approvals without any fee.
(procedure for Collector) On every 5th of month, the Collector or officer he deputes will publish Approval counts for each candidate as on last date of the previous month.

7. (procedure for CM) If a candidate gets approval of over 35% of ALL parents (ALL, not just those who have filed their approval) in a district, and it is 5% more than approval existing DEO has, then CM may appoint him as DEO

8 (procedure for CM , DEO) A person may become DEO with approval of parents, he may become DEO of more than one Districts. He may become DEO of at most 5 districts in the State and at most 20 districts in India. A person cannot be DEO of one District for over 8 years in his life. In case he is DEO of more than one district, he will get salaries , allowances, perks etc for the DEO positions of all those districts.

9 (procedure for CM ) As long as a DEO has approvals of more than 34% parents, CM need not replace him. But if a DEO’s approval goes below 34%, the CM can replace him with the officer of his choice.

Section-2 : Functions of DEO

1 (procedure for DEO) DEO shall administer class1-12 schools and the examination centers in the Districts, as per existing and later amended laws. The DEO shall get funds from PM, CM and District Panchayat Chief as per the laws made by citizens and MPs, MLAs and District Panchayat members.

2 (procedure for DEO) DEO shall administer education of the following subjects – Maths, Sciences, Physics, Chemistry, Biology, English, Hindi, local language, Military History, Law and administrative setup, History of law and administrative setup, Military training and weapon use education. He shall administer the education as per the laws made by MPs, MLAs etc.
(procedure for DEO) DEO will continue with education of Sanskrit and Social Sciences. But if over 51% of citizens demand discontinuation of this courses, the DEO may remove them from the compulsory course.

3 (procedure for DEO) DEO may allow any citizen to become “registered private tutor” for a fee of Rs 100.

4. (procedure for DEO) DEO may allow any parent to change his child’s tutor by filing Tutor’s name at the Talati’s office

5. (procedure for DEO) DEO may conduct 1-4 exams in Mathematics every month for class1-12 students. In addition, he will conduct exams ion Sciences, Law and other subjects. The exams may be computerized tests. The list of possible questions for each year/quarter will consists of 10000 to 100000 questions and will be published. The exams may consists of 30-100 questions from that list

6. (procedure for DEO) DEO may give rewards based on available funds, examination performance to the student and his tutor. The tutor will not receive any other salary from Govt except these payments.

Section - 3 - Citizens` Voice

1.

Citizens Voice (CV ) 1

[District Collector (DC)]

If any citizen wants a change in this law-draft, he may submit an affidavit at DC’s office and DC or his clerk will scan the affidavit along with voter ID number of the citizen onto the website of Prime Minister for a fee of Rs 20/- per page so that anyone can see the affidavit without logging-in.

2.

Citizens Voice (CV ) 2

[Talati (= Village Officer = Patwari)]

If any citizens want to register his opposition to this law or any section or wants to register YES-NO to any affidavit submitted in above clause, and he comes to Talati’s office with voter-ID and pays Rs 3 fee, Talati will enter YES/NO and give him a receipt. The YES-NO will be posted on the website of the Prime Minister along with voter ID number of the citizen.

==== end of draft ====

For detailed explanation, please see chapter 30 , 1 , 74 of http://www.3linelaw.wordpress.com (download link - http://www.righttorecall.info/301.pdf)

For FAQs, see http://www.righttorecall.info/004.htm (download link - http://www.righttorecall.info/004.pdf)


Top
 Profile  
 
Display posts from previous:  Sort by  
Post new topic Reply to topic  [ 1 post ] 

All times are UTC + 5:30 hours


Who is online

Users browsing this forum: No registered users and 1 guest


You cannot post new topics in this forum
You cannot reply to topics in this forum
You cannot edit your posts in this forum
You cannot delete your posts in this forum
You cannot post attachments in this forum

Search for:
Jump to:  
Powered by phpBB® Forum Software © phpBB Group