Page 1 of 1

ज्‍यूरी सिस्‍टम क्‍या हैं जानिए इस विडियो में

Posted: Wed Jul 02, 2014 4:50 pm
by Rakesh
इस विडियो को मैने सुना इसमे मुझे यह जानकारी ज्ञानवर्दक लगी

http://www.youtube.com/watch?v=fqWxbgAoSc0


अमेरिका मे सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट के सभी मुख्यल जजो की नियुक्ति अमेरिकी ससंद मे अमेरिका सासंदो की वोटिग द्वारा होती हैं और अन्य जज की नियुक्ति लिखित परीक्षा के माध्य्म से होती है और इटंव्यूअ की व्यमवस्था भी ऐसी है जिससे साठ-गाठ/फिक्सीाग होने की सभावना कम होती है मान लो अमेरिका मे 200 अन्यय जजो का इटंव्यूअ लेना है तो वहॉं पर इटंव्यूा लेने के लिए 100 लोगो को बुलाया जायेगा और उन 100 लोगो मे से लाटरी सिस्ट म की तरह 50 लोगो को चुना जायेगा |

और फिर उन 50 लोगो को फिर 5-5 गुप्र मे बाटा जायेगा वह 5-5 गुप्र के लोग 200 अन्य‍ जजों का इंटरव्यू लेते है यह कार्य इंटरव्यू लेने से कुछ मिनट पहले किया जाता है जिसके कारण इंटरव्यू लेने वालो को यह जानकारी नहीं होती कि वह इंटरव्यू किसका ले रहा है और इंटरव्यू देने वालो को भी जानकारी नहीं होती कोन सा व्य क्ति/समूह इंटरव्यू ले रहा है इसलिए सांठ’-गाठ/रिश्व त/फिक्सीनग होनी की सभांवना नहीं होती दूसरा इंटरव्यू लेने वालो को भी उसी समय अपने कागजो मे यह निर्णल लिखना होता था कि वह जिसका इंटरव्यू लिया है वह जज की नौकरी पाने योग्य है या नहीं गुप्र के पाचो इंटरव्यू लेने वालो को अपने कामेंट सरकारी कांगज मे उस समय लिखने होते हैं |

चाईना की कोर्ट मे केस के फैसले जल्दीय आ जाते है इसका कारण है वहॉं 2 लाख जज है और भारत मे केवल 20 हजार जज है और चाईना मे जज आम नागरिक बन सकते है क्यो‍कि वहा पर यह व्य वस्थाय है कि छात्र 12वी के बाद जज बनने के लिए entrance exam/प्रवेश परीक्षा दे सकता है लेकिन भारत मे जज बनने के लिए उसे BA+LLB करनी होती है और फिर आगे की तैयारी कारनी होती जिसके लिए उस आम नागरिक के पास पैसा नहीं होता इसलिए वह अन्यथ रोजगार की तरफ चला जाता है और भारत मे जज आम नागरिक नहीं बन सकता